Sleep Better at night : सुकून भरी नींद के अपनाएं ये 10 ideas

0
123

Sleep Better at night –

 

Sleep Better at night : –  अक्सर सुना होगा कि अच्छी सेहत व सौंदर्य के लिए सही नींद लेना बहुत ज़रूरी है।

lवैसे भी दिन भर की थकान के बाद सभी की इच्छा होती है कि वे रात को सुकून से सो सकें, जिससे कि अगले दिन बिलकुल फ्रेश महसूस करें।

मगर दुनिया में कुछ ऐसे लोग भी हैं, जो दिनभर भागदौड़ करने के बावजूद रात को बिस्तर पर करवटें ही बदलते रहते हैं।

अगर आप भी उन्हीं लोगों में से एक हैं तो जानिए 10 tips for  Sleep Better at Night

How to sleep better at night
Tips for better sleep

नींद  जरूरी क्यों हैं

आमतौर पर लोगों का मानना है कि उन्हें 7- 8 घंटे की (good sleep )नींद ज़रूर लेनी चाहिए

मगर हमारे आसपास कई ऐसे लोग भी हैं, जो 4- 6 घंटे की नींद लेने के बाद भी पूरी तरह फ्रेश रहते हैं।

अगर आपकी नींद भी कुछ ही घंटों में पूरी हो जाती है तो परेशानी की कोई बात नहीं है पर अगर बेड पर लेटने के कई घंटों बाद भी आप सिर्फ करवटें ही लेते रहते हैं तो चिंता की बात हो सकती है।

ऐसी कई बातें हैं, जिनकी वजह से कई लोग अनिद्रा (insomnia) की परेशानी से जूझते हैं।

आजकल काफी लोग sleep syndrome  से पीड़ित होते हैं, जिसकी वजह से उन्हें रात में नींद नहीं आती है। जानिए

Causes of insomnia अनिद्रा

  • दिन भर कोई फिजिकल एक्टिविटी न करना.
  • टेंशन या डिप्रेशन में हो.
  • सोने का टाइम फिक्स न होना
  • . दिन में नींद पूरी कर लेना
  •  सोते समय टीवी देखना या मोबाइल चलाना
  • . दिन भर में कैफीन का काफी सेवन
  • शेड्यूल काफी हेक्टिक होना
  • सेहत का ठीक न होना
  •  पति/ पत्नी या गर्लफ्रेंड/ बॉयफ्रेंड से तनाव भरे स
  • कुछ लोगों को हेवी वर्कआउट के कारण भी नींद नहीं आती है।

अच्छी नींद पाने के टिप्स – Tips To Sleep Better At Night

अगर आप अपनी अनिद्रा की बीमारी से परेशान हैं तो इस पर गौर फरमाने की ज़रूरत है।

कुछ लोग नींद न आने पर दवाइयों (स्लीपिंग पिल्स- sleeping pills) का सेवन शुरू कर देते हैं, जो कि स्वास्थ्य के लिहाज़ से काफी नुकसानदेह है।

उसके अलावा भी ऐसे कई उपाय हैं, जिनसे आप रात में    Better sleep की  आदत डाल सकते हैं। जानें, उनके बारे में।

 

1. समय पर सोना – कोशिश करके अपना सोने का एक टाइम फिक्स कर लें।सोने का बेस्ट टाइम वही है, जब आपके दिन भर के सारे काम पूरे हो चुके हैं।

ऐसा न हो कि आपके बिस्तर पर जाते ही ऑफिस के ज़रूरी या दोस्तों के गपशप वाले कॉल्स आने लगें।

2. सोने से पहले नहा लें – अगर आप रात में नहाकर सोने की आदत डाल लें तो काफी रिलैक्स महसूस करेंगे।

दरअसल, हलके गर्म पानी से नहाने से मांसपेशियों को आराम मिल जाता है और शरीर का तापमान भी कम हो जाता है।।

3. टीवी/ गैजेट्स से दूरी – कुछ लोग टीवी का रिमोट अपने बेड तक ले आते हैं, जो कि बहुत गलत है।

जब सोने का समय हो जाए तो टीवी और गैजेट्स से बिलकुल दूरी बना लेनी चाहिए। इनकी वजह से भी नींद काफी प्रभावित होती है।

4. मनपसंद काम करें – सोने से पहले अपना कोई भी मनपसंद काम करें, जिससे आप रिलैक्स महसूस करें।

अगर आपको किसी की आवाज़ सुकून भरी लगती है तो आप उसे सुनकर सोएं। कुछ लोगों को अपने प्रियजन से बात करते हुए ही नींद आती है।

5. थकान महसूस करें – अगर आप डेस्क जॉब करते हैं तो बहुत संभव है कि आप दिन में फिजिकल एक्टिविटी नहीं कर पाते होंगे।

यह एक बहुत गलत आदत है। अच्छी नींद के लिए थकान भी बहुत ज़रूरी है।

अगर आप जिम नहीं जा सकते तो बेहतर होगा कि लंच या डिनर के बाद टहलने की आदत विकसित कर लें।

 

6. बुक रीडिंग सेशन – अगर आपको किताबें पढ़ने का शौक है तो यह बात गांठ बांध लें कि रात को सोने से पहले 15- 20 मिनट तक किताबें पढ़ना स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छा माना जाता है

हालांकि, कोशिश करें कि हॉरर या बहुत सीरियस नॉवेल्स पढ़ने के बजाय आप लाइट रीडिंग ही करें।

 

7. खुद को कहानी सुनाएं – अगर सारे दिन को रिव्यू करते- करते आप अपने कल की टेंशन में भी चले गए हैं तो नींद भी आपको बाय- बाय बोल देगी।

अगर आपको कहानी सुनने- सुनाने का शौक है तो रोज़ रात को सोने से पहले खुद को बेडटाइम स्टोरीज़ सुनाएं।

 

8. डिनर हल्का हो – रात के खाने के हिसाब से भी आपकी नींद प्रभावित हो सकती है। डिनर स्किप करने या बहुत हेवी खाना खाने से अनिद्रा की समस्या हो सकती है।

डॉक्टर्स का मानना है कि रात को सोने से कम से कम 2 घंटे पहले भोजन करना चाहिए।

9. टेंशन को कहें बाय – सुकून भरी नींद के लिए यह बहुत ज़रूरी है कि सोने से पहले आपका दिमाग बिलकुल शांत हो।

अगर उस समय भी आप किसी पर्सनल या प्रोफेशनल टेंशन में उलझे रहेंगे तो नींद से समझौता करने के साथ ही दूसरी स्वास्थ्य समस्याएं भी हो सकती ह

 

10. स्लीप डायरी बनाएं – अगर आपको महसूस हो रहा है कि आप लंबे समय से अपनी नींद (sleep) को नज़रअंदाज़ कर रहे हैं तो अब वक्त आ गया है कि एक स्लीप डायरी बनाई जाए।

इसमें आप अपना रोज़ाना का सोने का टाइम नोट करें और फिर किसी डॉक्टर से कंसल्ट करें ताकि वो आपकी स्लीपिंग हैबिट के अनुसार अपनी राय दे सके

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here