As a Man Thinketh : By James Allen Book summary in Hindi

1
226

As a Man Thinketh – Hindi summary

James allen एक ब्रिटिश दार्शनिक लेखक और poeat के रूप में जाना  जाते है कहा जाता है कि जेम्स एलेन की ‘As a Man Thinketh ‘ self improvement  की सबसे पावरफुल  book में से एक  हैऐसा इसलिए है क्योंकि यह बुक एक बहुत ही important idea  बताती है यह आइडिया इतना important  रखता है कि यदि आप इसे अपनी लाइफ में पूरी तरह उतार लो तो देखते ही देखते आपकी पूरी लाइफ ट्रांसफार्म हो जाएगी और बिल्कुल वैसे ही बन जाएगी जैसे आप इसे बनाना चाहते हो

James allen ने इस किताब को सन 1903 में लिखा था लेकिन इस में बताए गए सिद्धांत आज भी उसी तरह लागू होते हैं जिस तरह इस किताब में बताए गए हैं |As A Man Thinketh बाइबिल की एक कहावत पर आधारित है जिसमें लिखा है कि जो भी इंसान अपने मन में सोचता है वह वैसा ही बन जाता है

दोस्तों  लेखक द्वारा यह बताया गया है कि हमारे विचारों का हमारे जीवन पर क्या प्रभाव पड़ता है | इस किताब में लेखक हमें बताते हैं कि किसी भी व्यक्ति का जीवन उसके विचारों से किस प्रकार जुड़ा होता है  आपकी पूरी जिंदगी को बनाने और बिगाड़ने में आपके thought का बहुत बड़ा रोल होता है

James allen book summary in Hindi
Book summary in hindi

लेखक हमें बताते हैं कि हमारे thought एक बीज   की तरह होते हैं जिसे हम अपने दिमाग के गार्डन में डालते हैं यदि हम अपने दिमाग के गार्डन में नेगेटिव बीज डालेंगे तो रिजल्ट भी नेगेटिव  होगा और यदि हम अपने दिमाग में पॉजिटिव seeds को डालेंगे तो रिजल्ट भी पॉजिटिव होगा

मनुष्य के विचार चाहे सकारात्मक हो या नकारात्मक, अच्छे हो या बुरे, वह मनुष्य के जीवन को किसी न किसी रूप में जरूर प्रभावित करते हैं | व्यक्ति के विचारों का प्रभाव उसके जीवन के किसी ना किसी हिस्से पर जरूर दिखाई देता है |

एक बात तो समझने वाली है आपके दिमाग का गार्डन आपको कुछ ना कुछ तो देगा चाहे positive  या negative अभी आपके ऊपर है कि आप क्या चाहते हैं अपने लिए पॉजिटिव या नेगेटिव रिजल्ट.

इसके लिए आपको अपने दिमाग के thought को    analysis करना पड़ेगा कि आप की सोच जो भी है क्या वह आपकी मनचाही जिंदगी से मिलती जुलती है या फिर आपने सिर्फ अपने दिमाग में नेगेटिविटी की झाड़ियां लगा रखी है यदि ऐसा है तो आपको तुरंत उन झाड़ियों को अपने दिमाग से साफ करना होगा जो आपके लिए बिल्कुल भी फायदेमंद नहीं है दोस्तों आपको इस पोस्ट के द्वारा पांच ऐसे thoughts के बारे में पता चलेगा जो  आपकी लाइफ को पूरी तरह बदल सकती हैं तो चलिए जानते  हैं …….

 1 – Effect of Thought on Circumstances

 हमें अपने thoughts के results, हमारे जीवन की परिस्थितियां और मौकों के रूप में मिलते हैं  इस idea को समझाते हुए author  3 लोगों का example देते हैं|  और कहते हैं कि आप अपनी लाइफ में चाहे जिस भी   situation  से गुजर रहे हो  उसके लिए आप स्वयं  जिम्मेदार होते हैं|

first  example में author  बताते हैं कि एक व्यक्ति जो अपनी लाइफ को  improve  करना चाहता है लेकिन वह अपने काम के बारे में हमेशा शिकायतें करता रहता है अपनी सैलरी बढ़ाने के लिए अपने बॉस से तरह-तरह के बहाने करता है ज्यादा काम करने का दिखावा करता है  यदि वह इसी तरह काम करता रहा तो वास्तव में वह अपनी परेशानियों को और बढ़ा लेगा और अपनी जिंदगी को कभी बदल नहीं पाएगा

दूसरी और आपको कुछ ऐसे लोग भी मिलेंगे जो कभी आपसे शिकायत नहीं करेंगे, जब भी आप हमसे मिलेंगे तो वह आपको हमेशा खुश दिखाई देंगे | आपने देखा होगा कि कुछ लोग हमेशा  खुश रहते हैं | ऐसे लोग किसी से कोई शिकायत नहीं करते और दूसरों के साथ उनके रिश्ते अच्छे होते हैं, क्योंकि उनके thought सकारात्मक होते हैं | अपने सकारात्मक विचारों के कारण ही उन्हें जीवन में positive results मिलते हैं |

Second example  ऐसे rich person  का है जिसे बहुत ही जानलेवा बीमारी है और वह अपनी बीमारी को ठीक करने के लिए मुंह मांगी कीमत देने को तैयार है लेकिन वह इसे ठीक करने के लिए अपनी unhealthy  diet  प्लान को चेंज नहीं करना चाहता और ना ही उन thoughts को छोड़ना चाहता है जिसके कारण unhealthy   खाना खाता है इसका रिजल्ट यह होगा कि वह कभी भी अपनी हेल्थ को ठीक नहीं कर पाएगा और उसकी बीमारी कभी भी ठीक नहीं हो पाएगी चाहे वह इसके लिए जितने भी पैसे देने को तैयार हो जाएl

Third example  इस example में  james allen  एक बिजनेसमैन के बारे में बताते हैं जो अपने एंप्लाइज को बहुत कम सैलरी देता है और उनकी सुविधाओं का ध्यान भी नहीं रखता जिसके कारण उसके  employees हमेशा उससे नाराज़ रहते है  हैं  जब उसका बिजनेस बंद हो  जाता है तो वह इसके लिए सिस्टम और economy को दोष देने लगता है जबकि इसकी वजह वो खुद है

  वहीं दूसरी और आपको कुछ ऐसे लोग भी मिलेंगे जो कभी आपसे शिकायत नहीं करेंगे, जब भी आप हमसे मिलेंगे तो वह आपको हमेशा खुश दिखाई देंगे | आपने देखा होगा कि कुछ लोग हमेशा  खुश रहते हैं | ऐसे लोग किसी से कोई शिकायत नहीं करते और दूसरों के साथ उनके रिश्ते अच्छे होते हैं, क्योंकि उनके thought सकारात्मक होते हैं |

जिस तरह एक बगीचे में फल और फूलों की अच्छी खेती के लिए हमें उसमें से घास को निकालना पड़ता है उसी तरह हमें जीवन में अच्छे परिणाम पाने के लिए अपने मन से गलत विचारों को निकालना पड़ता है | अपने जीवन में अच्छे परिणाम पाने के लिए हमें अपने मन में शुद्धता  और सही विचार रखने चाहिए

James allen   हमें बताते हैं कि हमारी situation हमें नहीं बनाती है वह तो  हमें बस हमारी असलियत बता देती हैं कि वास्तव में हम हैं कौन ?   यदि आपको अपनी लाइफ improve  करनी हो तो आप सबसे पहले अपने आपसे एक सवाल पूछिए मैं अपने विचारों को कैसे  बदल सकता हूं कैसे, कैसे उन्हें strong kar  सकता हूं ?

2- Thought & Purpose

Author.  बताते हैं कि जब तक आप अपनी thought  को किसी purpose से लिंक नहीं करोगे तब तक आप अपनी जिंदगी में कुछ भी बड़ा हासिल नहीं कर सकते इस बात को एक example से समझते हैं मान लीजिए कि प्रिया नाम की कोई एक लड़की है जो सिविल ऑफिसर बनना चाहती है और पढ़ाई भी बहुत मेहनत से करती है लेकिन इसके पीछे उसका कोई मकसद नहीं है वह पॉजिटिव थॉट रखने की कोशिश भी करती है लेकिन जब भी कोई प्रॉब्लम आती है बहुत ही ज्यादा निराश हो जाती है मेहनत करने के बावजूद भी जब आपने पहले प्रयास t में सफल  नहीं होती है तो उसके लिए आगे की पढ़ाई जारी रखना मुश्किल हो जाता है|

वहीं दूसरी तरफ एक लड़की माही है   जो सिविल सर्विस में जाना चाहती है लेकिन यहां उसके thought  कि पिछले एक purpose है वह अपने देश के लिए कुछ करना चाहती है इस तरह हर प्रॉब्लम को face  कर पाती और आगे बढ़ती रहती है अगर पहले कुछ बन प्रयास किए ñ इज नो उसमें उसका सलेक्शन नहीं भी होता है तो आगे बढ़ती चली जाती है  वह अपने purpose  को अपने दिमाग में रखती है ऐसे में यदि उसका selection नहीं भी होगा तो वह कोई दूसरा तरीका ढूंढ लेगी अपने purpose  देश सेवा को पूरा करने के लिए

जब तक विचारों को उद्देश्य के साथ ना जोड़ा जाए तब तक कुछ भी हासिल नहीं किया जा सकता | जिन लोगों का जीवन में कोई उद्देश्य नहीं होता वह जल्दी ही डर और चिंता के शिकार हो जाते हैं जिसके कारण उन्हें जीवन में असफलता का सामना करना पड़ता है | दोस्तों हम सब को अपने जीवन का उद्देश्य जरूर निर्धारित करना चाहिए और उसे पाने के लिए अपने आप को तैयार करना चाहिए |

अब आपके दिमाग में एक सवाल उठ रहा होगा कि मैं क्या करूं ?मुझे purpose  नहीं मिल रहा है इस सवाल के जवाब में author कहते हैं कि हमारे सामने जो भी काम है उसे करने में अपना 100%  दीजिए उसे अपने बेस्ट से बेस्ट तरीके से करिए फिर चाहे आप कोई भी काम करें चाहे पढ़ाई या excel sheet  आप अपने काम में पूरी मेहनत लगा दीजिए इस तरह आप अपनी थॉट को एक गोल की तरफ फोकस कर पाएंगे

यदि आपको लगता है कि विचारों को हमेशा शुद्ध  और अच्छा रखना मुश्किल है तो आपको चिंता करने की जरूरत नहीं है क्योंकि ऐसा सब के साथ होता है यदि आप अपनी बॉडी बनाना चाहते हैं तो उसे बनने में टाइम लगता है वैसे ही अपने दिमाग के थॉट को क्लीन करने में टाइम लगता है  धीरे-धीरे प्रेक्टिस करने से आप अपने विचारों को  clean  और  strong  कर पाएंगे जिससे आपके action  बदलेंगे और finally  आपकी लाइफ पूरी तरह से बदल हो जाएगी

James allen कहते हैं कि जिसने शक और डर को जीत लिया उसने अपने सभी असफलताओं को जीत लिया | दोस्तों जब आप अपने विचारों को बिना किसी डर के अपने उद्देश्य पर केंद्रित करेंगे तो आप के विचार एक रचनात्मक शक्ति का काम करते हैं | इस रचनात्मक शक्ति से आप जीवन में कुछ भी कर सकते हैं और कोई भी लक्ष्य हासिल कर सकते हैं |

3 The Thought-Factor in Achievement

James allen  कहते हैं कि इंसान को उसके जीवन में जो कुछ भी मिलता है वह सब उसके विचारों का ही परिणाम है इंसान अपने जीवन में जो कुछ भी हासिल करता है और जो हासिल नहीं कर पाता है वह सब उसके विचारों पर निर्भर करता है |

दोस्तों अगर आप जीवन में कुछ भी हासिल करना चाहते हैं तो उससे पहले आपको अपने विचारों को ऊपर उठाना पड़ेगा

मान लीजिए कि आप जीवन में बहुत बड़ा bussiness करना चाहते हो बहुत सारा पैसा कमाना चाहते हैं एक बड़ा घर खरीदना चाहते हैं और एक बड़ी गाड़ी खरीदना चाहते हैं | आप अमीर लोगों की तरह जीना चाहते हैं तो उसके लिए आपको अमीर लोगों जैसी सोच बनानी होगी,उनके जैसे  thoughts बनाने होंगे यदि आप अपने  Goal को हासिल करना चाहते हो आप को अपनी Animal desire को give up करना पड़ेगा क्योंकि एक शुद्ध विचारों वाला व्यक्ति अपने लक्ष्य को पाने के लिए एक बेहतर प्लान बना सकता है

जब भी व्यक्ति जीवन में कोई लक्ष्य निर्धारित करता है और उस पर काम करना शुरू करता है तो उसके मन में कई तरह के विचार आते हैं जो उसे अपने लक्ष्य से भटका सकते हैं | ज्यादातर लोग ऐसे विचार आने पर अपने लक्ष्य से भटक जाते हैं क्योंकि उनका ध्यान उन विचारों पर चले जाता है जो उस समय उनके दिमाग में आते हैं | ऐसे लोग अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफल नहीं होते

आपको अपने मन में अपने लक्ष्य के बारे में positive  विचार रखने होंगे और उस ओर positive action लेना  होगा | आपको अपने विचारों को अपने लक्ष्य पर केंद्रित रखना होगा और इधर उधर भटकने से बचाना होगा | तभी आप अपने लक्ष्य को प्राप्त कर पाएंगे |

इसे ऐसे समझा जा सकता कि आप सब कुछ जीवन में हासिल करना तो चाहते हो लेकिन उसके लिए मेहनत करना नहीं चाहते आप अपना समय सिर्फ इधर-उधर फालतू चीजों में बर्बाद करते हो तो इस तरह का इंसान   कभी भी कुछ भी हासिल नहीं कर सकता याद रखिए कोई भी सफलता बिना sacrifice के नही मिलती

ऐसा भी हो सकता है कि कोई व्यक्ति बहुत ज्यादा सफलता हासिल कर ले  और आध्यात्मिक रूप से भी बहुत आगे बढ़ जाए लेकिन यदि वह अपने विचारो को  शुद्ध नहीं रखेगा तो वह धीरे-धीरे स्वार्थी बनता जाएगा और धीरे-धीरे अपनी सफलता को खोने लगेगा।

आपको अपनी सक्सेस हासिल करने के बाद भी हमेशा अपने though  पर ध्यान देना चाहिए उसे clean  रखना चाहिए  दोस्तों जो व्यक्ति अपनी कमजोरियों को जीत लेता है और अपने  गलत विचारों को त्याग देता है

आपने अपने आस पास देखा और सुना होगा कि बहुत ज्यादा कामयाब लोग अपने विचारों को अपने लक्ष्य पर केंद्रित करके ही वह आज इतनी सक्सेसफुल बने हैं इसीलिए ऑथर कहते हैं कि हम अपने जीवन में  जो कुछ भी हासिल करते हैं उसमें हमारे विचारों का बहुत बड़ा रोल होता है। यदि आपका लक्ष्य बहुत बड़ा है तो आपके विचारों का स्तर भी बहुत ऊपर होना चाहिए हर बड़ी सफलता बड़े बलिदान के बाद ही मिलती है

4 Serenity

James allen  (जेम्स एलेन) कहते हैं कि अपने दिमाग को शांत बनाए रखना बुद्धिमता की निशानी है एक शांत  दिमाग का व्यक्ति भली-भांति है जानता है कि उसे हर परिस्थिति का सामना कैसे करना है वह विपरीत परिस्थितियों का भी डटकर मुकाबला करता है और अपने दिमाग को शांत रखने की कला में माहिर होता है एक साथ दिमाग का व्यक्ति अपने पॉजिटिव थॉट के साथ अपने बड़े से बड़े लक्ष्य को हासिल कर लेता है जिससे कि लोगों को प्रेरणा मिलती है और लोग उसकी सराहना करते हैं

दोस्तों आपने एक बात तो गौर की होगी कि जिस व्यक्ति का मन अशांत होता है वह छोटी-छोटी बातों पर चढ़ी जाता है और छोटी बड़ी चाहे जैसी भी परिस्थितियां हो यदि उसके विपरीत है तो वह बहुत जल्दी निराश हो जाता है और हताश हो जाता है वह उन परिस्थितियों का सामना नहीं कर पाता उसे गुस्सा बहुत जल्दी आता है और थोड़ी-थोड़ी बात पर दूसरों से लड़ाई झगड़ा कर लेता है तो हमेशा किसी न किसी समस्या से जूझता ही रहता है

अब ऐसा नहीं है कि जिस व्यक्ति का दिमाग बहुत शांत होता है वह जन्म से होता है बल्कि वो धीरे धीरे विकसित होता हैआप जैसे जैसे अभ्यास करते जाते हैं आपका दिमाग उतना ही धीरे-धीरे शांत होने लगता है आप किसी भी अत्यधिक सफल व्यक्ति को देखिए उसके चेहरे पर आपको खुशी और शांति नजर आएगी | सफल लोग शुरू से ही ऐसे नहीं होते, वह भी अपने जीवन में बहुत सी समस्याओं का सामना करते हैं, आम लोगों की तरह उनका मन भी इधर उधर भटकता है, लेकिन वह जानते हैं कि सफलता प्राप्त करने के लिए उन्हें अपने मन को अपने लक्ष्य पर केंद्रित करना होगा, और मन को लक्ष्य पर केंद्रित करने के लिए पहले उसे शांत करना होगा और   internal peace उन्हें  सफलता की सीढ़ियां चढ़ने पर मजबूर कर देता है एक साधारण से साधारण व्यक्ति भी इस बात को महसूस करता है कि जब वह शांत होता है तो वह अपने काम पर बहुत ज्यादा फोकस कर पाता है और अच्छे से कर पाता है अपना बेहतर देता है

गौरतलब करने वाली बात यह है कि परेशानियां तो सबके जीवन में आती हैं फर्क बस इतना है कि उन परेशानियों का सामना करते हुए कोई निखर जाता है और कोई बिखर जाता है  लोग समस्याओं और मुश्किल परिस्थितियों में भी घबराते नहीं है और उनका सामना एक शांत मन से करते हैं वह लोग अपनी सभी समस्याओं और परिस्थितियों पर जीत हासिल करते हैं  वहीं दूसरी ओर जिन लोगों का मन शांत नहीं होता, वह लोग अपने जीवन में कोई लक्ष्य निर्धारित नहीं करते, उनके मन में हजारों तरह के विचार आते हैं, कुछ सकारात्मक तो कुछ नकारात्मक, उनके विचार एक दिशा में नहीं होते

James allen कहते हैं – “हे तूफान से भरे हुए इंसान – खुद पर नियंत्रण ही तुम्हारी ताकत है, सही विचार ही तुम्हारी निपुणता है , मन की शांति तुम्हारी शक्ति है अपने मन से कहो शांत हो जा ”

5- Visions & Ideals

यह point  इस book सबसे strong point हैं   James allen    हैं कि ” dreamers save the world ” किसी भी इंसान का कोई बड़ा  achivement उसके सपनोंं का रिजल्टट होता है इंसान का चांद पर जाना भी एक सपना था जब तक कि वह हकीकत नहीं बन गया

दोस्तों यहां मैं आपको एक जरूरी बात बता दूं की सपना वह नहीं जो आप सोते हुए देखते हैं | सपनों का मतलब है जो आप अपने आप से वादा करते हैं कि आप जीवन में अपने लिए और दूसरों के लिए क्या करेंगे |

क्या आपने कभी सोचा है कि आप जो भी काम कर रहे हो चाहे पढ़ाई कर रहे हो या कोई स्किल सीख रहे हो क्यों सीख रहे हो तो इसका जवाब है कि आप आपने अपने लिए और अपनों के लिए जरूर कोई सपना देखा है जिसे आप दिन रात मेहनत करके पूरा करना चाहते हैं

हमारे सपने हमारी इच्छाओं और खुशियों से जुड़े होते हैं और हमें आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करते हैंकामयाब लोग अच्छी किस्मत से नहीं बल्कि कड़ी मेहनत और दृढ़ विश्वास से अपने सपनों को पूरा करने में कामयाब होते हैं | कामयाब लोगों की संपत्ति, उनकी ताकत और उनकी बुद्धिमता उनके अटूट विश्वास और कड़ी मेहनत का परिणाम होता है  |

इंसान को अपने दिल में अपना vision  जिंदा रखना चाहिए इस बात को समझाते हुए james allen  हमें एक लड़के का exampl  देते हैं जो जो एक वर्कशॉप में काम करता है जिसके लिए उसे बहुत मेहनत करनी पड़ती है  लेकिन वह अपना वजन अपने दिमाग में रखता है कि 1 दिन पढ़ लिखकर वह बहुत बड़ा आदमी बनेगा और बड़ा घर खरीदेगा और दुनिया को बदलेगा और इसका यही vision उससे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता हैं और एक दिन वह जरूर इस वर्कशॉप से बाहर निकलेगा और अपनी सकारात्मक सोच और एक्शन की वजह से अपने लक्ष्य को हासिल करेगा और एक सबके लिए आइडियल बन जाएगा

तो दोस्तों अपने जीवन में कुछ भी हासिल करने के लिए हमें सपने देखना बहुत जरूरी है और उन सपनों को जिंदा रखना उससे भी ज्यादा जरूरी है  जिस सपने को आप अपने मन में लंबे समय तक रखेंगे, और विश्वास करेंगे कि आप उसे पा सकते हैं वही सपना आपकी जिंदगी बनाएगा

तो दोस्तों देखा आपने james allen कि   Book’ As  a man thinketh  ‘अपने आप गागर में सागर है इस book का मुख्य बिंदु यही है कि आप  के thought ही आपको बनाते और बिगाडते है आपके विचारों से ही आपकी सोच बनती है, आपकी सोच से ही आपका व्यवहार बनता है, अपने व्यवहार के मुताबिक ही आप काम करते हैं, और काम करने से आपको परिणाम मिलता है |

James allen  की इस Book  का सारांश यही निकलता है कि

हमें अपने विचारों पर ध्यान देना चाहिए हमारे विचारों से ही हमारा व्यवहार बनता है और हमारा व्यवहार  से ही हमारी आदते बनती है   और हमारी आदतों से ही हमारा चरित्र निर्माण होता है चरित्र से ही हमारी किस्मत निर्धारित होती है।

दोस्तों उम्मीद हैं  आप को यह book summary  पसंद आई होगी और आपने इससे कुछ ना कुछ जरूर सीखा होगा  इस पर  हमें  अपनी  विचार कमेंट करके जरूर बताएं

धन्यवाद्

यह भी पढ़े 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here